आज का विचार

🌹 श्री सतगुरु देवाय नमः 🌹🌹 बोल-जयकरा बोल मेरे श्री गुरू महाराज जी की जय🌹

सुरति करौ मेरे साइयां, हम हैं भौजल माहिं ।
आपे ही बहि जाहिंगे, जौ नहिं पकरौ बाहिं ॥

अर्थ :
हे भगवान् ! मुझे याद रखना। मैं इस सागर-रुपी जीवन में बह रहा हूँ, और अगर आपका सहारा न मिला, तो मैं अवश्य ही डूब जाऊंगा। जय सच्चिदानंद जी l