🌻 Mere Guru 🌹 मेरे गुरु 🌼

🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌻🌼🌼🌼🌼🌼🌼🌼🌼🌼🌼🌼
चरण रखते है मेरे *गुरु* जहाँ, वहाँ पुण्य का सैलाब आता है....
पाप कटते है *गुरु दर्शन* से, चरणो मे मस्तक झुक जाता है...
कुछ मांगो ना अपने *गुरुवर* से, बिन माँगे ही सब मिलता है...
*गुरु* की मुस्कान को देखकर हम सबका मन खिल उठता है ...।
🌸🌸🌸🌸🌹🌹🌹🌹🌹🌷🌷🌷🌷🌸🌸🌸🌸🌸🌸
Share on Google Plus
Shri Nangli Sahib Darbar